CTET क्या है ? @ctet.nic.in

 CTET क्या है ?

CTET @ctet.nic.in

CTET की परीक्षा कब होती है ?

CTET की परीक्षा देना क्यों जरुरी है ?

CTET की परीक्षा कौन करवाता है ?

CTET की परीक्षा के लिए कौन अप्लाई कर सकता है ?

CTET का सिलेबस क्या है?

CTET की परीक्षा की तैयारी कैसे करे ?



Central Teacher Eligibility Test यह टेस्ट CBSE के द्वारा लिया जाता है। यह एक सामान्य टेस्ट होता है जो पास करना जरुरी होता है जिसे आगे टीचर बन सके। 


जब हम स्कूल में होते है कोई न कोई यह सपना जरूर देखता है की में एक टीचर बनूँगा और बहुत से लोगो का यह सपने जरूर पूरा  होते है।  CTET की परीक्षा उस सपने की सीढ़ी है। 

CTET की परीक्षा इसलिए करवाया जाता है क्योकि एक विधार्थी को एक अच्छी शिक्षा और एक अच्छा टीचर मिल सके जिसे शिक्षा का स्तर अच्छा हो सके। ऐसी परीक्षा केवल भारत में लिया जाता है और यह परीक्षा बहुत ही लाभदायक है। 


जो लोग इस परीक्षा को पास कर लेते है वह लोग सरकारी टीचर के लिए आगे  आवेदन कर सकते है।  इस परीक्षा को पास करने के बाद प्राप्त  अंको के अनुसार ही आगे का चयन किया जाता है। इस परीक्षा  का जो मुख्य उदेश्य यही होता है जो व्यक्ति टीचर बना चाहता है 


वह  इस काबिल है की वह टीचर बन सके क्यों की इस परीक्षा में व्यक्ति टीचिंग एबिलिटी को देखा जाता है उसके अनुसार ही CTET अंक देती है जिसके जितने अच्छे आंक प्राप्त होते है उसके लिए आगे की चयन में  उतना ही सहयता मिलती है। 







CTET की परीक्षा कब होती है ?


CTET की परीक्षा साल में दो बार होता है और हर साल लाखो लोग इस पेपर को देते है। 





CTET की परीक्षा देना क्यों जरुरी है ?


CTET की परीक्षा देना इसलिए जरुरी है क्यों की अगर टीचर बना है तो एक परीक्षा देना जरुरी है अगर आप यह परीक्षा नहीं देते है तो अब किसी भी सरकारी स्कूल के टीचर के लिए कभी अप्लाई नहीं कर सकते है इसलिए CTET की परीक्षा पास करना जरुरी हो जाता है। CTET की परीक्षा कोई भी अगर थोड़ी सी मेहनत कर लेता है तो इस पेपर को आसानी से पास कर  सकता है। 

अब प्राइवेट स्कूल में भी अगर टीचर की नौकरी करनी है तो इस परीक्षा पास होना जरुरी हो जाता है बहुत से प्राइवेट स्कूल में यह परीक्षा में पास होते है तभी वह स्कूल में टीचर की नौकरी देते है। 

CTET की परीक्षा कौन करवाता है ?


CTET की परीक्षा CBSE करवाती है इस परीक्षा में पास होने वाले लोग भारत के किसी भी सरकारी टीचर की  नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते है। CTET की परीक्षा दो तरह से दे सकते है एक राज्य सरकार के  स्तर पर दूसरा तरीका केंद्र सरकार के स्तर पर दे सकते है अगर राज्य स्तर पर CTET की परीक्षा देते है तो राज्य स्तर पर टीचर बन सकते है टीचर की नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते है पर आप केंद्र सरकार के स्तर पर परीक्षा देते है तो आप पुरे भारत कही भी टीचर के लिए अप्लाई कर सकते है। 

CTET की परीक्षा कब आयोजित किया जाता है ?


CTET की परीक्षा CBSE के द्वारा लिया जाता है और साल में यह परीक्षा  दो बार  लिया जाता है CTET की परीक्षा एक जुलाई और  दिसंबर में होता है। CTET की परीक्षा देते है तो पास होने के लिए कम से कम 60% होना जरुरी है अगर इसे कम आता है तो  CTET की परीक्षा में पास नहीं माना जाएगा। 




CTET की परीक्षा के लिए कौन अप्लाई कर सकता है ?


CTET के परीक्षा के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है। ऑफलाइन अप्लाई करने का कोई भी साधन नहीं है इसलिए  ऑनलाइन ही अप्लाई कर सकते है। 

अप्लाई करने के लिए इस पर क्लिक करे = Apply here 


अप्लाई करने के लिए कौन चीजे जरुरी  होना चाहिए 


CTET की परीक्षा के लिए वह लोग अप्लाई कर सकते जिन्होंने D.EL.ED ( Diploma in Elementary Education ), B.EL.ED ( Bachelor Of Elementary Education ), Diploma in Education ( Special Education ) , B.ED ( Bachelor Of Education ) करा हो। 

जिन लोगो ने यह सभी कोर्स में कोई भी एक कोर्स करा हो तो वह व्यक्ति CTET की परीक्षा के लिए अप्लाई कर सकता है CTET के लिए यह सभी में से कोई एक कोर्स  होना जरुरी है। 

बिना CTET की परीक्षा को पास किये बिना आगे के लिए कोई भी अप्लाई नहीं कर सकता है इसलिए CTET की परीक्षा जरुरी है। 

CTET का सिलेबस क्या है?

CTET का पेपर दो भाग है दोनों ही पेपर अलग अलग कक्षा के लिए होते है।
पेपर I  ( कक्षा 1 से 5 तक ) 150 सवाल आते है जो 150 अंको का होता है। 
पेपर II   (कक्षा 6  से 8 तक ) 150 सवाल आते है जो 150 अंको का होता है। 

कोई भी या तो दोनों पेपर दे सकता है या एक पेपर कोई भी अपनी योगिता के अनुसार इन दोनों में से कोई सा भी पेपर दे सकता है। 

पेपर I (  कक्षा 1 से 5 तक )

अवधि :2 :30  घंटे 

1. बल विकास एंव शिक्षाशास्त्र ( Child Development And Pedagogy )
2. भाषा I (Language I ) 
3. भाषा II ( Language II )
4. गणित ( Mathematics )
5. पर्यावरण अध्ययन ( Environment Studies )



पेपर II (  कक्षा 6 से 8 तक )

अवधि :2 :30  घंटे 


1. बल विकास एंव शिक्षाशास्त्र ( Child Development And Pedagogy )
2. भाषा I (Language I ) 
3. भाषा II ( Language II 
4. गणित और विज्ञान 
            या 
5. सामाजिक अध्ययन और सामजिक विज्ञान 

CTET के परीक्षा में कोई भी नेगेटिव मार्किंग नहीं होता है मतलब गलत उतर देने पर कोई भी सही उतर का अंक नहीं कटा जाएगा। 


CTET की परीक्षा की तैयारी कैसे करे ?


हर साल लाखो बच्चे इस पेपर के लिए तैयारी करते है और पास भी हो जाते है पर पास होना जरुरी तो है पर साथ में अगर अच्छे अंक भी मिल जाये तो आगे के रास्ते आसान हो जाते है इसलिए इसकी  तैयारी अच्छे से करना चाहिए  तो सवाल है की CTET की तैयारी कैसे करे। 

CTET की परीक्षा पास करने वाले लोगो का कहना है की अगर आप दोनों पेपर देते है तो यह जरुरी हो जाता है की NCERT की बुक को पढ़े क्यों की आप अन्य बुक भी पढ़ते है तो पास तो हो जायेंगे पर जो आपको नंबर चाहिए शायद वैसा नंबर न मिले इसलिए सबसे पहले कक्षा 1 से 9 तक की सभी NCERT किताबे जरूर पढ़े। 


क्यों की भारत अब जिस तरह से डिजिटल हो रहा है उसे अनेक फायदे भी हो रहा है इसलिए आप ऑनलाइन भी CTET की क्लास ले सकते है।  YouTube पर CTET के अनेक वीडियो है जिसे देख कर आप CTET की तैयारी कर सकते है। 



कोई टिप्पणी नहीं

Gallery