डिप्रेशन क्यों होता है ?

डिप्रेशन क्यों होता है ?

डिप्रेशन एक ऐसी मानसिक बीमारी जो आज के समय में हर कोई इसे जूझ रहा इस बीमारी की कोई उम्र नहीं होती आज के इस युग में सभी इसके शिकार हो रखे है अगर कोई यह कह दे की उसे डिप्रेशन नहीं है तो मतलब वह झूट बोल रहा है। 


एक चीजों एक बार बार सोचने डिप्रेशन की ओर आदमी जाता है उसको लगता है की हर गलत चीज मेरे साथ ही हो रहा है और बहुत सोचने लग जाता है तब वह एक कदम डिप्रेशन की ओर बढ़ा देता है।



 भारत में डिप्रेशन को लोग इतना महत्व नहीं देते है वह यह कहे कर बात को टाल देते है की बस छोटी सी तनाव है और कुछ नहीं है वह भूल जाते हैं की आगे इसे चलते हुए उनको अनेक चीजों का सामना करना पड़ेगा। 




डिप्रेशन होने के अनेक कारण है और सबके अलग कारण होते है कोई अपनी नौकरी को लेकर है किसी को अपने प्यार को लेकर है एक बिज़नेस करने वाल्व व्यक्ति को अपने बिज़नेस को लेकर है वही कुछ को तो अपने परिवार को लेकर है अगर हर किसी के डिप्रेशन के कारण को खोजे तो हजार कारण मिल जायेंगे। 


 यह भी कहा जाता है की डिप्रेशन पुरुष के मुकाबले महिलों को ज्यादा होता है। डिप्रेशन के शिकार सबसे ज्यादा अमेरिका में है और भारत में और चीन में ये तीन ऐसे देश हैं जो डिप्रेशन इंडेक्स में ऊपर निचे होते रहते हैं। भारत में आज के समय में लोगो में मन की शांति नहीं है लोग बस परेशान ही रहते हैं।



कब पता चलता है की कोई डिप्रेस्ड है ?

 जब कोई डिप्रेस्ड होता है तो उसे हर बात पर गुस्सा आएगा अगर उसे गुस्सा नहीं आ रहा है तो उदास और अकेले बैठा रहेगा और कुछ ना कुछ सोचता रहेगा वह इंसान भीड़ में भी अपने आप को अकेला समझेगा।


  रात रात भर उसे नींद नहीं आएगी वह हमेशा के लिए कही दूर जाने की सोचेगा और सबसे महत्पूर्ण बात उसे बस मरने के ख्याल आएंगे। अगर किसी को डिप्रेशन हो जाता है तो खुद से नफरत करने लग जायेगा कुछ गलत होने पर वह खुद को दोषी मानेगा। 


डिप्रेशन का इलाज 

  1. ये कहा जाता है की डिप्रेशन का सबसे अच्छा इलाज होता है की किसी डॉक्टर से सलहा लेना पर यह देखा गया है की डॉक्टर से सलहा लेने के बाद भी कोई फर्क नहीं पड़ता है ना दवाई का  कोई  असर हो पता है।  यह कहा जाता है की डिप्रेशन का सबसे अच्छा इलाज होता दोस्तों से बात करने से या उनके साथ समय बिताने से उनसे मिलने से डिप्रेशन कम होता है क्यों की हमरे दिमाग में जो गलत चीजे चल रही होती है वह नहीं आते तो हमरा सारा ध्यान दोस्तों के साथ लग जाता है।
  2. वह चीजे करे जिसमें मन लगे जैसे अगर कोई खेल पसंद है तो उसे खेलना चाहिए। बहुत से लोगो को नई चीजे नई जगह पसंद होता है ऐसे में इनको वहाँ जाना चाहिए घूमना चाहिए जिसे मन लगा रहे और डिप्रेशन से दूर रहे। 
  3. बहुत से लोग जिनको डिप्रेशन हुआ है उन्होने बतया है की अगर डिप्रेशन हो जाता है तो सबसे अच्छा उनको गांव की यात्रा करना चाहिए कुछ लोग तो बोलते है की गांव में  रहने से वहाँ खेतों  में काम करने से डिप्रेशन को कम कर सकते हैं।  एक डिप्रेशन वाले व्यक्ति ने अपने डिप्रेशन के समय की कुछ बाते बताई की वह कैसे  डिप्रेशन से निकला उसने बतया की एक समय ऐसा आ गया था की मरने के सोच रहा था तभी मैंने एक फिल्म देखी जिसमे एक गांव में लोगो का जीवन कैसा होता है उसे देख कर मेरा मन बदल गया और मैं गांव में रहना लग गया तब मुझे अपने जीवन का सही मतलब समझ पाया।  इसलिए कभी जीवन में निराश नहीं होना चाहिए कब क्या हो जाये कुछ नहीं पता डिप्रेशन का इलाज हमारे पास ही होता है बस उसे ढूंढ़ने की इच्छा होनी चाहिए 
  4. मन की शांति से भी डिप्रेशन को दूर कर सकते हैं। " मन की शांति कब होती है "
  5. डिप्रेशन का इलाज पूरी दुनिया खोजती है की इसे कैसे दूर करे लोगो डॉक्टर की सलाह लेते है दवाई लेते है पर भी पता नहीं क्यों ठीक नहीं होता है। कुछ लोग कहते है जो इस बीमारी से निकल चुके है वह बोलते है आप कितनी भी कोशिश करे पर जब तक आप खुद को नहीं समझते की मुझे इस बीमारी से  निकलना है तब तक कोई भी डिप्रेशन से नहीं निकाल सकता है। 
  6. अगर कुछ चीजे गलत हो रही है और आप डिप्रेशन में जा रहे है तो सबसे अच्छा यह है की उस चीज को मान लीजिये की मेरे साथ गलत हो रहा है कोई नहीं में इसे ठीक कर लूंगा पर ऐसा न करके हम बस यही दिखाते रहते है गलत हो रहा है मेरे साथ ही क्यों हो रहा है जिसे कोई भी और डिप्रेशन में चला जाता है। 

कोई टिप्पणी नहीं

Gallery